Recent Posts

The Rural Student

The Rural Student In Rural School.

Sports or education

Education Learning Outcomes in Sports Games via TLM.

Rural sports

Many children enjoy playing in rural sports.

Rural Student

Discipline of rural children.

The Rural Teachers

Teachers, guardians and children

मंगलवार, 14 सितंबर 2021

Hindi-Divas -हिंदी दिवस कविता

हिंदी दिवस 14 सितम्बर 

नोट- इस कविता में भारत  देश के सभी 28 स्टेट और 8 केंद्र शासित प्रदेश के नाम आते हैं, और उन राज्यों की एक एक विशेषता का वर्णन है, 

जिस हिन्दी भाषा को आज हम बोलते-सुनते-पढ़ते हैं, वो 3500 साल से पुरानी  है। 1500 ईसा पूर्व में हिन्दी की मां कही जाने वाली संस्कृत भाषा की शुरुआत हुई थी। 1900, ईसवी में हिन्दी भाषा को  खड़ी बोली में लिखना-पढ़ना शुरू किया गया।

हिंदी भाषा को आज विश्व में सबसे अधिक चौथे स्थान पर वोले जानी बाली भाषा हैं हिंदी के इतिहास में बहुत से कवियों ने अपनी अपनी कविताये रचनाये लिखी हैं जो की बहुत प्रसिध हुई हैं हिंदी भाषा भारत में अधिक बोले जानी बाली भाषा हैं 

Hindi-Divas-Poem कविता 

Hindi-Divas-14-sep


" जिस धरती पर हम तो रहते"


ताज सिर पर विश्वगुरु सजा 

निज गौरव का रखे मान है।

जिस धरती पर हम तो रहते

वो अपना प्यारा हिंदुस्तान है।


आंध्रा में वो गोदावरी बहती 

हिम हिमाचल की शान है।

पंजाबी लगती मीठी बोली

हरियाणा गेहूं खलियान है।

जिस धरती...................


गुर्जर का गिर कानन गरजे

मध्य में महाकाल गुमान है।

वीरों का गढ़ है मेरा मराठा

रेतों का टीला राजस्थान है।

जिस धरती...................


उत्तरांचल गंगा का उद्गम

उत्तर मे संगम सम्मान है।

बिहार का है बोधगया तो 

गढ़  छत्तीस देता धान है।

जिस धरती................


गोवा के तट को सब देखो

कर्नाटक का हंपी मान है।

तमिल रामेश्वर मिल जाते 

केरल सबको देता ज्ञान है।

जिस धरती.................


तेलंगाना  में अब चारमीनार

झारखंड  में इस्पात आन है। 

चरण बंगला के धोता सागर

नाथ  उड़ीसा विराजमान है।

जिस धरती....................


फूलों  का गढ़ सिक्किम बने 

असम चाय प्याली उद्यान है।

रम रहें आदिवासी नागालैंड 

अरुणाचल तो प्रकाशमान है।

जिस धरती.....................


मणिपुर  का  मन जंगल में

मिजो  नदियों  की खान है।

त्रिपुर  सुंदरता का मालिक

जल का मेघालय वरदान है।

जिस धरती...................


जम्मू का यश दुनिया यूँ देखे 

दमन दीव केला विद्यमान है।

लाखों में एक बना लक्षदीप

सागर में स्थित अंडमान है।

जिस धरती...................


चंडीगढ़ का वास्तु प्रसिद्ध तो 

अगस्त से वेदपुरी की तान है।

लद्दाख में बुद्ध रमते कभी थे 

दिल  दिल्ली सबकी शान है।

जिस धरती.

 Hindi-Divas -हिंदी दिवस

धन्यवाद 

National Anthem- Jan-gan-man-राष्ट्रगान जन-गण-मन हिंदी

National Anthem lyrics in hindi, national anthem of india in hindi 

राष्ट्रगान  जन-गण-मन को सन् 1950 में भारतीय संविधान में राष्ट्रगान का दर्जा मिला।

राष्ट्रगान को हमेशा सावधान की अवस्था में खड़े होकर गाना चाहिए।

इसे गाने में नियमों के उल्लंघन पर कड़ी कार्रवाई का भी प्रावधान है।

National-Anthem-of-India


    National Anthem of India, Rashtra gaan, jana gana mana full lyrics in hindi, Indian national anthem lyrics in hindi, national anthem of india, 

जन गण मन गीत  राष्ट्रगान गाने के नियम, जन गण मन अधिनायक इन  हिंदी, 

मुख्य बातें - जन-गण-मन को सन् 1950 में भारतीय संविधान में राष्ट्रगान का दर्जा मिला।राष्ट्रगान को हमेशा सावधान की अवस्था में खड़े होकर गाना चाहिए।इसे गाने में नियमों के उल्लंघन पर कड़ी कार्रवाई का भी प्रावधान है।


National Anthem lyrics in hindi : राष्ट्रगान जन-गण-मन भारत की आजादी का एक अहम हिस्सा है। इससे देश की पहचान जुड़ी हुई है। राष्ट्रगान को रबिन्द्रनाथ टैगोर (Rabindranath Tagore) ने लिखा था। इसे स्वतंत्रता दिवस समेत अन्य विशेष अवसरों पर बजाया जाता है। संविधान ने इसे 24 जनवरी 1950 को राष्ट्रगान (National Anthem) के रूप में स्वीकार किया था।


National Anthem lyrics in hindi, national anthem of india in hindi, राष्ट्रगान इन ह‍िंंदी 

जन गण मन अधिनायक जय हे

भारत भाग्य विधाता।


पंजाब सिन्ध गुजरात मराठा

द्रविड़ उत्कल बंग।


विंध्य हिमाचल यमुना गंगा

उच्छल जलधि तरंग।


तव शुभ नामे जागे

तव शुभ आशीष मागे।


गाहे तव जयगाथा।

जन गण मंगलदायक जय हे

भारत भाग्य विधाता।


जय हे, जय हे, जय हे

जय जय जय जय हे॥


राष्ट्र्रगान से जुड़ी कुछ और बातें भी बेहद दिलचस्प है, जिसे हर भारतीय को जानना चाहिए।


1.देश के राष्ट्र्रगान जन गण मन को पहली बार साल 1911 में कोलकाता में कांग्रेस के एक कार्यक्रम में गाया गया था।


2.राष्ट्रगान को पूरा गाने में 52 सेकेंड का समय लगता हैए जबकि इसके संस्‍करण को चलाने की अवधि लगभग 20 सेकंड है।


3.राष्ट्रगान को रवींद्रनाथ टैगोर ने न सिर्फ लिखा बल्कि उन्होंने इसे गाया भी था। इसमें 5 पद हैं। 


4.राष्ट्रगान को आंध्र प्रदेश के एक छोटे से जिले मदनपिल्लै में गाया गया था।


5.राष्ट्रगान को गाते समय सावधान की अवस्था में खड़े होना चाहिए. नियमों का पालन न करने पर जेल और जुर्माने का प्रावधान है। 

जन-गण-मन को सन् 1950 में भारतीय संविधान में राष्ट्रगान का दर्जा मिला।

राष्ट्रगान को हमेशा सावधान की अवस्था में खड़े होकर गाना चाहिए।

इसे गाने में नियमों के उल्लंघन पर कड़ी कार्रवाई का भी प्रावधान है।


सोमवार, 13 सितंबर 2021

E-education should be accessible in rural areas of India

 E-education should be accessible in rural areas of India-

    E-Learning in Rural India: In the era of the Corona crisis, today all educational activities are being done through online mediums. The central government has provided many facilities for online studies. In India, the Union Ministry of Human Resource Development has started the Bharat Online Padhe campaign. The purpose of this campaign is to how online education can be made better. The meaning of this whole exercise is to overcome the obstacles in the way of e-education.

e-learning


    E-education can prove to be very effective and effective in spreading education in rural India and remote areas. In rural India, lack of teachers, lack of interest in studies of people, poverty, lack of infrastructure, etc. is the main reasons, due to which progress in the field of rural education does not take place. But this situation can be changed with the use of e-education. Rural India will be able to take advantage of online education only if its digital infrastructure is very strong. And herein lies the biggest irony.

    Rural India still lacks facilities like electricity, online network connectivity, banking, etc. Practically even today many households in rural areas do not have access to electricity. Without electricity, the facility of a broadband network has no meaning. It is true that these days smartphones have emerged as a great medium of e-education, but it is also true that even today all mobile phone users in India do not have a smartphone, especially in rural areas. There is no proper internet facility there. Obviously, the biggest challenge is the lack of infrastructure in rural India for online education.

     The formal medium of instruction in rural India is the local language. These dialects and languages form an important part of the communication and teaching method of education, but mobile phones and other means of the Internet are mostly compatible with the English language that do not drive digital behavior in villages. If online education is to be made successful in villages

    So the use of digital mediums that operate from local languages will have to be promoted. In this way, the hesitation towards digital media in rural India will also be broken. It has been revealed in many studies that the rural population of India is digitally illiterate. Ignorance of new technologies to read, write, understand and communicate the language used in digital behavior and online is a hindrance.

     Rural education In order to reach education in rural areas, first of all, the study material can be delivered to the students, and then there can be interaction with the teachers through online videos.

    Another option is in which the curriculum can be recorded and used to teach students who do not attend these classes. It creates expanded access to education.

    Rural education requires e-learning technologies. In fact, it is the responsibility of the government to ensure that teacher training programs are organized in rural areas and it should take the help of NGOs in such work.

    The journey to ensure the digitization of rural India is a long one, as it requires massive work. The present crisis is a golden opportunity to prepare for these challenges.


solution for online education in rural areas

e-learning in rural India

education in rural areas during covid

challenges of online education in rural areas

the effectiveness of e-learning in rural areas”

online class in rural areas

how to sell e-education in rural India

how to sell e-education in rural areas

How can online education be improved in rural areas?

How can we improve education in rural areas in India?

Why is education better in rural areas?

Why is digital literacy important in rural areas?

GK Questions For Class 1 Hindi

Rural education in India


Rural education In India

Hindi-Divas -हिंदी दिवस कविता

हिंदी दिवस 14 सितम्बर  नोट- इस कविता में भारत  देश के सभी 28 स्टेट और 8 केंद्र शासित प्रदेश के नाम आते हैं, और उन राज्यों की एक एक विशेषता क...

google